Wp Rocket plugins all best Settings explained – In Hindi

दुनिया कि 63% से ज्यादा Websites WordPress प्लेटफार्म पर चलती है और इस wordpress performance plugins कि अगर लिस्ट बनाई जाये तो Wp rocket plugins टॉप 3 में जरुर आएगा लेकिन अच्छे से अच्छा Plugin भी बिना Setting के उतना ही काम कर सकता है जितना एक सुपर कार बिना ड्राईवर के कर सकती है यानि कि Zero.

Wp Rocket Plugins
Wp Rocket Plugin

इसलिए आज के इस आर्टिकल में हम wp rocket plugins कि सारी Setting को Explain करने वाले है और बताने वाले है की आपको किस सेटिंग को ON/OFF करके क्या फायदा या नुकसान हो सकता है| Wp Rocket Plugins को WordPress Performance Plugin भी कहा जाता है | इस आर्टिकल को पढने के बाद आप खुद ये जान पाएंगे की Wp Rocket Plugin कि कौन सी Settings आपके लिए बेस्ट है |

About Wp Rocket:

Wp Media के Co-Founders, Jonathan Buttigieg और Jean-Baptiste है | WP Rocket Plugins, WP Media का पहला Product है, जो 2014 में बनाई गई कंपनी है और Web Performance को अनुकूलित करने के लिए सॉफ़्टवेयर समाधान प्रदान करती है। Wp Media के Headquarter, Lyon और France में मौजूद है | अभी के टाइम पर Wp Rocket Plugin के अनुसार इनकी सर्विस 2,355,000 websites पर Active है जो की अपने आप में एक काफी बड़ी संख्या है |

Wp Rocket के लांच होने के बाद, 2016 में Wp Media ने Imagify नाम के एक नये Image Optimization प्लगइन को लांच किया और 2020 में Rocket CDN नाम का एक CDN प्लगइन लांच किया| इसके बाद 2021 में, Wp Media को ONE Gruop द्वारा Acquire कर लिया गया |

WordPress Performance Plugin – Wp Rocket

सबसे पहले आपके लिए ये जानना आवशयक है की Wp Rocket Plugins का पूरा फायदा उठाने के लिए आपको अपनी वेबसाइट को पहले से Optimize करना होगा | चाहे Wp Rocket हो या कोई भी दूसरा Performance Plugin हो, कोई भी प्लगइन आपकी कैसी भी वेबसाइट को 100 Pagespeed Insights स्कोर नहीं दे सकता है | आपकी वेबसाइट जितना ज्यादा पहले से Optimize होगी उतने ही अच्छे रिजल्ट्स आपको Wp Rocket Plugins से देखने को मिलेंगे |

एक बात और मैं आपको यहाँ पर Clear कर देना चाहता हु कि Wp Rocket Plugin का कोई Free या Trial Version नहीं है इसलिए आपको इसे Manually download करके इंस्टाल करना पड़ेगा | अब बिना किसी देरी के हम wp rocket की best settings को एक-एक करके देखेंगे |

Wp Rocket Plugins Download

Wp Rocket Plugin आपको अपने WordPress Plugins लिस्ट में नहीं मिलेगा इसलिए आपको इसे Wp Rocket कि Official Website से ही डाउनलोड करना पड़ेगा| डाउनलोड करने के बाद ये प्लगइन आपके सिस्टम में एक ZIP फाइल में save हो जायेगा | इसके बाद आपको अपने WordPress के Plugins सेक्शन में जाना है और वहां पर Upload Plugin ➧ के बटन पर क्लिक करके इस ZIP फाइल को अपलोड कर देना है |

इसके बाद ये कुछ टाइम लेगा और आपकी वेबसाइट में Wp Rocket Plugin इंस्टाल हो जायेगा | अब आपके सामने Activate का एक बटन आएगा आपको इसे Activate कर देना है | अब आपको wp rocket की best settings के लिए आपको अपनी Left Sidebar में Settings➧Wp Rocket➧पर जाना है | यहाँ पर आपके सामने Wp Rocket Plugin कि सभी Settings दिख जाएगी और यहाँ से आप अपने Wp Rocket Plugins को पूरा कण्ट्रोल कर सकते हो |

All Wp Rocket Best Settings:

DASHBOARD➧

Wp Rocket के डैशबोर्ड में आपको काफी सारे Menus और Options दिखाई देंगे | वैसे इसके Dashboard में कोई खास Setting नहीं होती है | यहाँ पर आपको आपके लाइसेंस और आपके अकाउंट की इनफार्मेशन देखने को मिलती है और Right Side में आपको Cache Clear करने के कुछ Option मिलेंगे –

  • Clear Cache
  • Purge OP Cache
  • Remove Used CSS Cache

Cache:

Cache एक तरह का Temporary Storage होता है जो Ready फाइल्स को Serve करने के लिए रखा जाता है| इन Cache Files को दोबारा से Generate नहीं करना पड़ता है, इसलिए Visitors को फाइल जल्दी मिल जाती है और इसलिए आपकी वेबसाइट फ़ास्ट Feel होती है |

Clear Cache :

इस Clear Cache का अर्थ होता है की Cache में जितनी फाइल्स Save है  उन सबको Delete कर दो |

Purge OP Cache:

OP Cache, Php का Built-In इंजन है जो Scripts को Visitor के लिए पहले से Compile करके रखता है जिससे हर Visitor के लिए उसे अलग से Compile करके की जरुरत नहीं पड़ती है| इसलिए Purge OP Cache का मतलब है की इसके अन्दर जितनी भी Compile की हुई Scripts है उन सबको Delete कर दो|

Remove Used CSS Cache :

इसका अर्थ होता है कि जो CSS फाइल्स Save करके रखी हुई है ताकि उसे अगली बार Visitor को दिखाया जा सके, उसे Delete कर दो |

आपको ये तीनो Options तब use करने चाहिए, जब आप अपनी वेबसाइट में कोई बदलाव करते है | बदलाव करने के बाद आपको इन तीनो Buttons को क्लिक करना है ताकि आपकी वेबसाइट के सभी Changes, Visitors को दिखाई दे सके |

CACHE➧

Enable Cache For Mobile Devices:

अब आप इसके दुसरे Menu, Cache पर आ चुके है | यहाँ पर आपको सबसे पहली Setting- Enable Cache For Mobile Devices देखने को मिलेगी, आपको इसे ON कर देना है क्यूंकि हम चाहते है कि जो भी लोग हमारी वेबसाइट को मोबाइल से देख रहे है, वो इस Cache फंक्शन को use करे |

Separate Cache Files For Mobile Devices:

 आपको अपनी वेबसाइट में इस Setting को तभी ON करना चाहिए जब आप Mobile Devices के लिए कोई अलग Theme प्रयोग करते हो | सबसे अच्छा Solution यही है की आपकी एक ही थीम Responsive होनी चाहिए, जो मोबाइल और डेस्कटॉप दोनों को हैंडल कर सके लेकिन अगर आप या आपका कोई क्लाइंट किसी मजबूरी के चलते मोबाइल Devices के लिए अलग Theme को इस्तेमाल करने पर मजबूर है, तो आप उस Option को Tick कर सकते है वरना इसे ऐसे ही Untick रहने दे |

User Cache:

इस Setting को ON करने से आपके WordPress Panel में जो Login किये हुए Users है, उन्हें भी Cache के माध्यम से ही फाइल्स भेजी जाती है | ये Option आपको तब ON करना चाहिए, जब आपके Usres आपकी वेबसाइट में Login करने के बाद कंटेंट को देखते है | इसमें किसी खास किस्म कि Websites आती है, जैसे Membership Websites, जिसमे Users वेबसाइट में Login करने के बाद कंटेंट को देखते है |

अगर आपकी भी वेबसाइट कुछ इस प्रकार कि है जिसमे Users Login करते हो तो आप इस आप्शन का लाभ उठा सकते है अन्यथा इसे OFF ही रहने दे!

Cache lifespan:

जैसा कि हमने आपको उपर बताया ही की Cache एक Temporary Memory होती है तो अब ये Temporary Memory कितनी देर तक जीवित रहेगी ये इस सेटिंग से निर्धारित होता है |

By Default ये 10 घंटो के लिए सेट होता है यानी की 10 घंटो के बाद ये आपकी सभी Cache Files को अपने आप Delete कर देगी | Blog इत्यादि के लिए ये सेटिंग परफेक्ट है लेकिन अगर आपकी वेबसाइट एक या दो महीने में एक बार अपडेट होती है तो इस टाइम को आप अपने अनुसार बढ़ा सकते है और अगर आप चाहते है की आपकी कैश फाइल्स कभी भी Delete ना हो तो आप यहाँ 10 की जगह 0 कर दीजिये | Wp Rocket Plugins को WordPress Performance Plugin इन्ही सभी Useful Settings के लिए कहा जाता है |

Note:   जब आप ये सारी सेटिंग्स अपने अनुसार Change कर ले तो निचे दिए गए Save Changes के बटन पर एक बार जरुर क्लिक करे | कुछ Plugins ऐसे होते है जिनमे इस बटन को एक ही बार दबाना होता है और आप उसकी सभी Tabs में घूम सकते है लेकिन इस Plugin में ऐसा नहीं होता है कुछ सेकंड्स का समय लगता है इसलिए हर बार आप Save Changes के बटन पर जरुर क्लिक करे!

FILE OPTIMIZATION➧

CSS Files

Minify CSS Files:

File Optimization के सेक्शन में सबसे पहले आपको Minify CSS Files का आप्शन नज़र आएगा | CSS फाइल्स आम तौर पर कुछ ऐसे दिखाई देती है (Image 1.2) सुन्दर और सही तरीके से लिखी हुई |

Wp Rocket Plugins minify css code
Image 1.2

लेकिन इसमें जो ये Formatting और बेकार का Space है ये ही इसके साइज़ को बढाता है और Computers के लिए इस सजावट का कोई मतलब नहीं होता है | इसे Minify करने के प्रोसेस में इस फाइल्स से ये Formatting और Spaces को हटाकर कुछ इस तरीके का बना दिया जाता है | (Image1.3)

Wp Rocket Plugins minify Css code
Image 1.3

इसलिए जब आप इस सेटिंग को ON करते है तो उस वक्त Wp Rocket Plugins आपकी CSS Files का एक Minify किया हुआ Version बनाता है और फिर वो उसे ही use करता है और आपकी Original CSS फाइल के साथ कोई छेड़-छाड़ नहीं कि जाती है | इसलिए आप इस Setting को जरुर ON करे | यहाँ एक पॉइंट का जरुर ध्यान रखे कि जब आपने यहाँ Minification को ON कर दिया है तो आप किसी और Plugin या service जैसे अगर आप Cloudflare इस्तेमाल करते है तो आप वहां Minification को ON मत करिए |

Note: Wp Rocket Plugin की कुछ Settings में बदलाव करते टाइम आपको कुछ इस तरह का बॉक्स दिखाई देता है जो आपको Warning देता है (Image 1.4)
Wp Rocket Plugins Warning Message
Image 1.4

 ये बॉक्स इस प्लगइन के बताने का तरीका है की ये सेटिंग Sensitive है और इसे change करने के बाद आपको अपनी वेबसाइट को एक बार चेक करके देखना चाहिए कि सब कुछ सही चल रहा है या नहीं |

Combine CSS Files:

इस setting को ON करने के बाद Wp Rocket Plugins आपकी बहुत सारी Minify कि हुई फाइल्स को Combine करके एक बड़ी सी फाइल बना देता है |

Note:   इस सेटिंग को ON करने के बाद हो सकता है कि websites का Layout बिगड़ जाये इसलिए इसे चेक करने के बाद अपनी वेबसाइट को एक बार जरुर चेक करे अगर सब कुछ सही से लोड हो रहा है तो इसे ON रहने दीजिये |
Exclude CSS Files:

अगर आपकी वेबसाइट में ऐसी कोई Sensitive CSS फाइल है जिसे आप Minify और Combine नहीं करना चाहते है, तो उसका URL आप इस इस सेटिंग में बने बॉक्स में डाल दीजिये, आपका काम हो जायेगा | Wp Rocket के इस Tutorial आर्टिकल में आप अपनी वेबसाइट को काफी हद तक ऑप्टिमाइज़ कर लेंगे |

Optimize CSS Delivery:

इस आप्शन को अगर आप टिचक करके ON करते है तो Wp Rocket दो काम करता है –

A. आपकी वेबसाइट के लिए ये Critical CSS को Generate करके use करेगा | Critical CSS से तात्पर्य है की सिर्फ उतना CSS जितना ठीक तरीके से पेज को लोड करने में ज्यादा जरुरी है |

B. बाकि बची हुई CSS फाइल्स को ये Async तरीके से लोड करेगा |

इसलिए इस सेटिंग को ON करने पर आपकी जो CSS से रिलेटेड Render Blocking Resources की समस्या है वो दूर हो जाएगी | अगर इस आप्शन को ON करने के बाद आपकी वेबसाइट का Look खराब होता है तो इसका मतलब है कि Wp Rocket जो Critical CSS बना रहा है, वो गलत है |

ऐसी अवस्था में आप खुद Critical CSS बनाकर इस Setting में बने बॉक्स (Image 1.5) में paste कर सकते है | ऐसा करने पर आपकी वेबसाइट का Look भी सही रहेगा और आपकी जो CSS से रिलेटेड Render Blocking Resources की समस्या है वो भी ख़त्म हो जाएगी |

Wp Rocket Plugins Critical CSS Box
Image 1.5

Critical CSS को Generate करने के लिए आप Pegasaas (Link video 7:18) नामक वेबसाइट कि मदद ले सकते है | इस टूल में आपको अपने उस पेज का लिंक डालना जिसके लिए आप Critical CSS बनाना चाहते है | कुछ ही सेकंड्स में ये टूल आपको Critical CSS बनाकर दे देगा | आपको इसे Optimize CSS Delivery कि सेटिंग के निचे Fallback Critical CSS बॉक्स में पेस्ट कर देना है |

Remove Unused CSS

WordPress में वेबसाइट कि security और performance से रिलेटेड काफी सारे Plugins मौजूद है और ये काफी हद अपना काम कर भी देते है लेकिन एक Performance से रिलेटेड Issue ऐसा है जो हर एक वेबसाइट में आता ही आता है और इसका Solution हर किसी Plugin के पास नहीं है और इस Issue का नाम है – Remove Unused CSS. चाहे आप किसी  भी WordPress वेबसाइट को टेस्ट कर ले, ये Issue उसमे जरुर आएगा |

इसी के चलते Wp Rocket Plugins इसका एक Solution लाया है, जिसके बारे मे अब हम बात करेंगे | Wp Rocket Plugin ने इस Issue को Solve करने का तरीका बड़ा आसान बना दिया है |

इससे उपर वाली सेटिंग Optimize CSS Delivery को ON करते ही आपको इसके निचे Remove Unused CSS का एक आप्शन मिलेगा. आप ने इसे ON कर देना है और अगर ये पहले से ही ON है तो आपको कुछ नहीं करना है, इसे ऐसे ही ON छोड़ देना है और निचे Save Changes पर क्लिक कर देना है |

ये सेटिंग ON करके आपने अपनी वेबसाइट से Unused CSS को तो Remove कर दिया है जो एक performance से रिलेटेड काफी बड़ा Issue है लेकिन ये क्या है और इससे आपकी वेबसाइट को क्या नुकसान है? ये जानना आपके लिए बेहद जरुरी है –

एक बेसिक Web Page के मुख्यतः तीन पार्ट होते है –

  • Html
  • CSS
  • Java Script (JS)

Html में Readable इनफार्मेशन होती है, CSS फाइल में डिजाईन से रिलेटेड फाइल्स होती है और Java Script में Function से रिलेटेड कोड होता है |

जब आप एक नार्मल पेज बनाते है तो जो भी डिजाईन से सम्बंधित कोड की जरुरत होती है उसे आप CSS फाइल में लिखते चलते है लेकिन जब आप एक बड़ी वेबसाइट बनाते है या किसी रेडीमेड थीम का प्रयोग करते है, तो ऐसे में कई बार CSS फाइल में बहुत सारा ऐसा कोड भी मौजूद होता है जो वास्तव में हर एक पेज पर Use नहीं होता है यानी कि वो Unused होता है |

इससे हम ये समझ सकते है की Unused CSS का मतलब है की वेबसाइट कि CSS फाइल में ऐसा कोड होना जो Use नहीं हो रहा है |

एक सामान्य वेबसाइट पर आप ये चेक कर सकते है कि किस पेज पर कितना कोड use नहीं हो रहा है और उसे आप वहां से Remove कर सकते है लेकिन WordPress Website के मामले में ये प्रोसेस इतना सरल नहीं है !

एक wordpress वेबसाइट में CSS कोड किसी एक जगह से नहीं आता है बल्कि Theme, Plugins, Widgets और External Script – सभी से रेंडर होते वक्त ये CSS कोड लागु किया जाता है | इस CSS कोड को WordPress पर Edit नहीं किया जा सकता है इसलिए WordPress पर इतने सारे wordpress performance plugin होने के बावजूद, इस Issue से निपटने का कोई खास प्लगइन नहीं है !

Wp Rocket Plugins इस प्रॉब्लम को यूनिक तरीके से Solve करता है | जैसा की हमने आपको अभी बताया है की wordpress Pages में CSS के कई सारे Resources होते है, इसलिए इसे हटाना मुश्किल होता है | Wp Rocket Plugin इस Unused CSS को पेज के अंदर से नहीं बल्कि बाहर से हटाता है |

How Unused CSS Function Work :

जब आपनी वेबसाइट में इस Unused CSS File के इस आप्शन को Enable करते है तो आपके हर एक पेज का URL, Wp Rocket की API के पास जाता है, जो हर एक पेज पर Visit करती है और देखती है कि उस पेज पर वास्तव में कितना CSS प्रयोग किया जा रहा है और फिर उसी CSS कोड को आपकी वेबसाइट के Database में wpr_used_css के नाम से एक टेबल में Save कर देती है |

अब Wp Rocket आपकी वेबसाइट से CSS File और Inline CSS को हटाकर खुद की Generate की हुई CSS File को इंजेक्ट कर देगा, जिससे आपकी वेबसाइट में सिर्फ Used CSS कोड रहेगा और Unused CSS कोड का Issue ख़तम हो जायेगा | इतना सारा काम आपका हो जायेगा और इसमें आपको कुछ नहीं करना है |

ऐसा भी हो सकता है कि Wp Rocket के इस Remove Unused CSS आप्शन की वजह से आपकी वेबसाइट का Layout बिगड़ जाये तो उस परिस्थिति में आपको Remove Unused CSS वाले बटन के ठीक निचे CSS Safelist  नाम का एक बॉक्स दिखाई देता है, अगर आप चाहते है कि Wp Rocket Plugin किसी खास CSS File या CSS Class को ना हटाये तो आप उसका URL या Class और ID का नाम इस बॉक्स में Enter कर दे जिससे Wp Rocket उस CSS फाइल को Unused CSS फंक्शन से नहीं हटाएगा, जिससे आपकी वेबसाइट का लुक खराब नहीं होगा |

ये सब करने के बाद अगर आपको कभी ऐसा प्रतीत होता है कि मैंने Remove Unused CSS आप्शन को ON तो कर रखा है लेकिन पता नहीं कि वो काम भी कर रहा है या नहीं तो इसके लिए –

सबसे पहले आप अपनी वेबसाइट को Chrome ब्राउज़र के Incognito Mode में Open करिए | उसके बाद View Source Code को Open करिए और उसमे इस कोड <style id=”wpr-usedcss”> को सर्च कीजिए |

अगर ये कोड आपकी वेबसाइट के Source Code में दिखाई दे रहा है तो इसका मतलब है कि Remove Unused CSS का फंक्शन आपकी वेबसाइट में चल रहा है | इसके होने का मतलब है कि Wp Rocket Plugins आपकी वेबसाइट में सिर्फ Used CSS को ही यूज कर रहा है और Unused CSS हट चुकी है |

Java Script Files

इसके बाद हमारा Java Script Files का सेक्शन आता है | इस सेक्शन में उपर बताये गए सभी CSS Files वाले ही Option है इसलिए मैं उन्हें दोबारा से Explain नहीं करूंगा |

Minify Javascript Files:

इसे ON करने से आपकी Javascript Files Minify हो जाएगी |

Combine Javascript Files:

इसे ON करने से आपकी जो कई Minified Javascript Files है वे सभी Combined हो जाएगी | इसे ON करने के बाद अपनी वेबसाइट को एक बार चेक जरुर कर ले कि कही कोई गड़बड़ तो नहीं हो रही या कोई Functionality ब्रेक तो नहीं हो रही है वरना इसे बंद रहने दीजिये |

Exclude Javascript Files:

अगर आप किन्ही Javascript Files को Minify या Combine नहीं करना चाहते है तो आप उनका लिंक यहाँ बने बॉक्स में पेस्ट कर दीजिये |

Load Javascript Deferred:

इस आप्शन को भी आप ON कर दीजिये | अगर किसी फाइल को आप Defer नहीं करना चाहते है, अगर आप चाहते है कि कोई खास Javascript File तुरंत डाउनलोड होकर Execute हो तो उसका लिंक आप इस सेटिंग के निचे ‘Exclude Javascript Files’ बॉक्स में पेस्ट कर दीजिये |

Delay Javascript Execution:

इस आप्शन को ON करने के बाद आपके FID Score के सुधरने के Chances बढ़ जाते है क्यूंकि ये आप्शन Javascript Files को तब तक रोककर रखता है जब तक User क्लिक या स्क्रॉल नहीं करता है, इसलिए WordPress Performance Plugin की इस सेटिंग को भी आप ON कर दीजिये |

MEDIA➧

Lazy Load

Enable For Images:

Media Tab में सबसे पहले Lazy Load का आप्शन होता है जो Images के लिए होता है | इसमें आप सबसे पहले Enable For Images को ON कर दीजिये जिससे आपके पेज में मौजूद Images जरुरत पड़ने पर आराम से Load होगी |

Enable For Iframes And Videos:

इस सेटिंग को भी आप ON कर दीजिये | इसे ON करने से आपकी वेबसाइट में मौजूद Videos भी जरुरत पड़ने पर ही लोड होगी |

Replace Youtube Iframes & Preview image:

इस तीसरी सेटिंग को ON करके हम अपने पेज में Youtube Videos की जगह Preview Images को ON कर दिया है | इससे होगा ये कि आपकी साईट में जहाँ पर भी Youtube Videos, Embed किये जायेंगे वहां पर सिर्फ उनकी Thumbnail दिखाई देगी और जब यूजर उस पर क्लिक करेगा तब वो video लोड होना शुरू होगी |

Image Dimensions

Add Missing Image Dimensions:

इसे भी आप जरुर ON करे क्यूंकि ये आपके CLS Score को खराब होने से बचाता है | इसे ON करने से Wp Rocket Plugins आपकी CSS फाइल में इमेज के साइज़ को मेंशन कर देगा और ब्राउज़र लोड होते टाइम आपकी इमेज की जगह को छोड़ देगा, जिससे आपका CLS स्कोर खराब नही होगा |

WebP Compatibility

Enable WebP Caching:

Wp Rocket Plugin खुद से आपकी Images को WebP में कन्वर्ट नहीं करता है लेकिन अगर आपके पास ऐसा कोई प्लगइन है जो आपकी Images को WebP में convert करता है तो इस setting को ON करने से Wp Rocket आपकी Images को WebP में दिखाने लगता है, इसलिए इसे ON कर दीजिये |

PRELOAD➧

Preload का मतलब होता है पहले से लोड कर लेना | Technically Cache फाइल्स यब सर्वर बनाता है, जब कोई पहला यूजर उस फाइल कि डिमांड करता है, तो इसका मतलब है कि किसी पहले यूजर के लिए वेबसाइट Slow होगी | ये Preload का आप्शन उस पहले यूजर कि जरुरत को ख़त्म कर देती है और फाइल्स के cache को पहले से ही Ready करके रख लेती है जिससे वेबसाइट हर यूजर के लिए फ़ास्ट बनी रहती है |

Activate Preloading:

इसमें इस आप्शन को ON करके आप अपनी वेबसाइट में Preloading को ON कर दीजिये |

Activcate Sitemap Preloading:

इस सेटिंग को भी ON कर दीजिये जिससे Sitemap के आधार पर सारे URLs को Wp Rocket, Preload कर लेगा |

Rank Math/Yoast XML Sitemap:

इस आप्शन से आप अपने Sitemap को सेलेक्ट कर सकते है | अगर किसी कारण से आप प्लगइन के बनाये हुए Sitemap कि जगह पर अपने खुद के बनाये हुए Sitemap को Add करना चाहते है तो इस आप्शन को ON मत कीजिए और इसके ठीक निचे बने बॉक्स में आप अपने Sitemap के लिंक को डाल दीजिये |

Enable Link Preloading:

ये आप्शन यूजर के लिंक के उपर माउस Hover करते ही पेज के CSS और html को डाउनलोड करना शुरू कर देता है जिससे जब उसे वास्तव में उस लिंक पर क्लिक करता है तो वो पेज जल्दी लोड होता है इसलिए wp rocket best settings में से एक इस आप्शन को भी आप जरुर tick करे |

Prefetch DNS Requests:

इस सेटिंग में बने बॉक्स में आप किसी खास Domain को उसका URL डालकर, पहले से Prefetch करने के लिए Instruction दे सकते है|

Preload Fonts:

इस बॉक्स में आप Fonts के Preload होने की Instruction दे सकते है | इन दोनों Boxes में आपको सिर्फ URLs देने होंगे |

ADVANCED RULES ➧

इस Tab में मौजूद Options को ज्यादातर use नहीं किया जाता है लेकिन फिर भी इन Options की जानकारी हम आपको दे देते है –

Never Cache URLs:

Never Cache URLs में आप अपने उन URLs को दे सकते है जिन्हें आप कभी भी Cache नहीं करवाना चाहते है|

Never Cache Cookies:

इस बॉक्स में आप उन Cookies कि ID’s को दे सकते है जिन्हें आप cache नहीं करवाना चाहते है |

Never Cache User Agents:

अगर आप चाहते है की किसी खास ब्राउज़र से आने वाले users को cache किये हुए Pages ना दिखाए जाए तो उन Browsers को इस बॉक्स में मेंशन किया जा सकता है |

Always Purge URLs:

अगर कोई ऐसा पेज ही जिसके Cache को आप हमेशा Delete करना चाहते है, चाहे वेबसाइट में कही पर भी Changes हो तो उस URL को आप इस बॉक्स में मेंशन कर सकते है |

Cache Query String:

Query String, URL का वो पार्ट होता है जो Question Mark (?) के बाद आता है तो अगर आप ऐसे pages को भी Cache में Save रखना चाहते है तो आप उन Quarries को आप इस बॉक्स में मेंशन कर सकते है |

DATABASE➧

Database Tab आपकी वेबसाइट के Database को ऑप्टिमाइज़ करती है लेकिन यहाँ पर मैं आपको एक वैधानिक चेतावनी देना चाहूँगा कि –

Please Remember:   Databse में किया हुआ कोई भी Change अंतिम होता है | अगर आपके Database में कोई भी चाहा-अनचाहा, अच्छा-बुरा Change होता है तो आप उसे वापिस नहीं ला सकते है | Wp Rocket Plugins की ये सेटिंग safe है क्यूंकि ये बहुत सारी websites में use की जा रही लेकिन फिर भी हर एक वेबसाइट यूनिक होती है और आपकी जिम्मेदारी सिर्फ अपनी वेबसाइट की है | इसलिए अगर आप अपनी वेबसाइट में पहली बार इस Setting को use करने जा रहे है तो पहले आप अपने Databse का Backup जरुर ले ले और उसके बाद इस setting का प्रयोग करे!

Revisions:

इस आप्शन को tick करने पर आपकी Posts और Pages के कई version जो अपने आप Save होते रहते है उससे रिलेटेड डाटा Database से हट जायेगा |

Auto Drafts:

इसे ON करने पर आपकी Posts और Pages का Draft का डाटा आपके Database से हट जायेगा |

Trashed Posts:

इसे ON करने पर आपकी Delete कि हुई Posts और Pages का डाटा database से डिलीट हो जायेगा | इन तीनो options को आप अपनी जरुरत अनुसार सेलेक्ट कर सकते है लेकिन अगर आपने कोई जरुरी पोस्ट Draft में save कर रखी है तो दुसरे वाले Box को tick मत करियेगा |

Comments Changes:

अगर आप अपनी वेबसाइट से Spam और Delete किये हुए Comments का डाटा हटाना चाहते है तो इन दोनों Boxes को सेलेक्ट कर सकते है |

Translents Cleanup:

Translents Cleanup में Temporary फाइल्स होती है जिन्हें आप Delete कर सकते है इसके लिए आप इन दोनों options को ON कर दीजिये |

Optimize Tables:

इसे भी आप ON कर सकते है जिससे आपकी Database कि Tables Optimize होती रहेगी |

Automatic Cleanup:

जितनी भी बदलाव आपने अपनी Databse फाइल्स में अब किये है उन्ही सभी settings को use करके Wp Rocket Plugins आटोमेटिक तरीके से इस कूड़े को Cleanup करने की अनुमति आपसे ये इस सेटिंग में मांगता है ताकि आपको दोबारा ये Mannual ना करना पड़े लेकिन मैं आपको ये कभी भी Recommend नहीं करूंगा कि आप इसे ON करे | इसे Manually क्लीन करना ज्यादा Safe है |

CDN ➧

CDN Tab में Wp Rocket खुद के CDN Rocket CDN को ऐड करने का आप्शन देता है | Wp Rocket अपने CDN के आलावा Cludflare CDN को भी ऐड करने का आप्शन देता है लेकिन अगर आप किसी और CDN को use करना चाहते है तो आपको उस CDN का CNAME इस बॉक्स में Add करना होगा और उससे पहले इस ‘Enable Content Delivery Network’ के इस आप्शन को टिक करना होगा |

HEARTBEAT➧

Heartbeat, wordpress की एक API है जो वेबसाइट के दुसरे Editors को बताती है कि कोई और भी वेबसाइट के किसी हिस्से पर काम कर रहा है ताकि कही दो लोग इस एक पेज पर काम करके इसे बर्बाद ना कर दे लेकिन अगर आपकी वेबसाइट छोटी है और इसे एक ही इंसान मैनेज कर रहा है या अगर एक से ज्यादा लोग मैनेज कर रहे है लेकिन वे आपस में एक-दुसरे के साथ सम्पर्क में रहते है तो आप इस आप्शन को बंद करके अपने सर्वर पर पड़ रहे बेकार के लोड को ख़त्म कर सकते है |

Wp Rocket Plugins वैसे तो By Default इस API की Activity को Reduce कर देता है लेकिन अगर आप इसे पूर्णतया बंद करना चाहते है तो आप इस setting में सबसे निचे तीनो Reduce Acivity वाले Boxes (Image1.6) Disable सेलेक्ट करके इसे Save कर दीजिये |

Wp Rocket Plugins Heartbeat API
Image 1.6

ADD-ON➧

इस वक्त Wp Rocket Plugin, Cloudflare और Sucuri के लिए Add On दे रहा  है| अगर आप Wp Rocket Plugins के साथ Cloudflare को use करना चाहते है तो आपको इसे ON करना है और उसके बाद Clouflare की Global API Key, Email Id और Zone ID डालकर आप इसे कनेक्ट कर सकते है |

IMAGE OPTIMIZATION➧

ये आप्शन आपको सिर्फ Wp Rocket के खुद के Plugin, Imagify को use करने की  सलाह देता है इसलिए अगर आप अपनी Images को Compress करने के लिए किसी Plugin कि तलाश में है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते है लेकिन अगर आप पहले से ही किसी Image Optimize Plugin का इस्तेमाल कर रहे है तो आप इसे नज़रंदाज़ कर सकते है |

TOOLS➧

इस फंक्शन के सहारे आप अपनी Wp Rocket Plugins की सम्पूर्ण Setting को Export और Import कर सकते है | साथ ही यहाँ पर Wp Rocket Plugin के पिछेले Version पर जाने का विकल्प भी दिया होता है |

Export/Import:

अगर आपकी कई websites है और आप नहीं चाहते है कि आपको हर एक वेबसाइट में ये Settings करने पड़े तो आप अपनी किसी एक वेबसाइट पर ये सारी Settings करके और उसे Export कर लीजिये और फिर सभी Websites पर जाकर इसे Import कर लीजिये, आपकी मेहनत बच जाएगी |

Rollback:

ये Rollback आप्शन उस वक्त काम आता है जब Wp Rocket Plugins की किसी अपडेट के बाद आपकी वेबसाइट में Issues आने लगते है और आप चाहते है कि पुराने वाला version वापिस आ जाये तो आप इस पर क्लिक करके  Wp Rocket के पुराने version को वापिस ला सकते है |

निष्कर्ष :

दोस्तों आज इस आर्टिकल में हमने आपको Wp Rocket Best Settings के बारे में अवगत करवाया है | इस आर्टिकल में मैंने आपको Wp Rocket Plugin की settings का Explanation और कुछ Recommendation दिए है जिनका प्रयोग करके आप अपनी wordpress वेबसाइट कि performance को बढ़ा सकते है |

Wp Rocket एक Performance और Caching Plugin है जिसका मार्किट price लगभग 50 $/Year का है जो कि एक अहुरुआति ब्लॉगर के लिए ज्यादा है | इसलिए अगर आप स्टार्टिंग में इस प्लगइन को नहीं ले सकते हो तो WordPress पर ऐसे अनेको फ्री Plugins मौजूद है जो ये facility प्रदान करते है |

लेकिन आप अपनी वेबसाइट में कभी Wp Rocket Nulled का प्रयोग ना करे क्यूंकि ये आपकी वेबसाइट को नुकसान पहुंचा सकता है | ऐसा करने पर आपकी पूरी वेबसाइट Crack या Hack हो सकती है क्यूंकि इनमे अनेको Bugs होते है और आप इसके लिए Developers को Complaint भी नहीं कर सकते हो क्यूंकि वे खुद इन Nulled या Other License वाले Plugins को use करने से मना करते है |

Google ने एक वेबसाइट की स्पीड को एक Ranking Factor के रूप में घोषित कर दिया है इसलिए एक अच्छी रैंकिंग लेने के लिए ये जरुरी है कि आपकी वेबसाइट की Speed और Performance हो | लेकिन इसका ये मतलब कदापि नही है कि आप अपनी वेबसाइट के Pagespeed Insights Score को तो 100/100 कर ले लेकिन आपका कंटेंट खराब क्वालिटी का हो | आपको यहाँ पर एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि वेबसाइट की स्पीड सिर्फ एक Ranking Factor है और ऐसे-ऐसे बहुत सारे फैक्टर्स है जिनके उपर भी आपको काम करना पड़ेगा | इसलिए सिर्फ Website की Speed पर अपना Focus ना करे |

अगर आपको इस आर्टिकल में दी गयी जानकरी उपयोगी और महत्वपूर्ण लगे तो इसे जरुरतमंद लोगो के पास शेयर जरुर करे और अगर आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव है तो आप Comment Section के माध्यम से उसे हमारे साथ साँझा कर सकते है |

FAQ:

Is WP Rocket free? Is there a free version of WP Rocket available?

नहीं, WP Rocket का कोई Free और Trial Version मौजूद नहीं है | इसे use करने के लिए आपको इसका Paid प्लान ही लेना पड़ेगा लेकिन इसके अन्दर आपको कुछ दिनों के लिए Money Back Guarantee मिल जाती है |
हो सकता है आपको इसका कोई Nulled Version फ्री में मिल जाए लेकिन मैं आपको उसका use करने कि सलाह कभी भी नहीं दूंगा क्यूंकि उन Nulled Version कि मदद से Hackers आपकी वेबसाइट को नुकसान पहुंचा सकते है |

How to check if WP Rocket is working and caching pages?

ये सुनिश्चित करने के लिए कि WP Rocket आपकी वेबसाइट को Caching कर रहा है या नहीं इसके लिए आपको अपनी वेबसाइट के किसी भी पेज को Chrome browser के Incognito Mode में open करना है और उसके बाद उसका Source Code खोलना है | अब आपको इस Source Code के बिलकुल Bottom में जाना है और वहां पर आपको “This website is like a rocket …”लिखा हुआ मिलेगा जिससे आप ये समझ सकते है कि WP Rocket Plugins आपकी वेबसाइट में अच्छे से काम कर रहा है |

What makes WP Rocket better than other caching plugins?

WP Rocket बाकि Performance Plugins के मुकाबले में ज्यादा अच्छा है | इस Plugin का Monthly price भी काफी कम है | इस Plugin को नये Features के साथ Regular Update भी किया जाता है | इस प्लगइन का Interface भी काफी User Friendly है | ये ही कुछ Quality इस Plugin को बाकि Plugins से अलग बनाती है |

नमस्कार दोस्तों, मैं Mahakal-Blog का फाउंडर हु | ब्लॉग्गिंग करना मेरा प्रोफेशन है और मेरी रूचि, नई-नई चीजो के बारे में जानकारी अर्जित करना और उसे ब्लॉग्गिंग के मध्यम से लोगो के साथ शेयर करने में है | इस ब्लॉग को बनाने के पीछे हमारा मकसद यह है कि हम आपको ब्लॉग्गिंग और डिजिटल मार्केटिंग से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी एकदम सरल भाषा हिंदी में उपलब्ध करवा सके !

Share For Support:

Leave a Comment