SEO Kaise Kare – Future Of SEO And Important Skills For This

हाल ही में Google Search Relations टीम जिसमे John, Gary Illyes, Martin Splitt शामिल है उन्होंने Future Of SEO टॉपिक पर एक ब्रॉड कास्ट किया है कि आगे भविष्य में SEO में क्या-क्या घटित हो सकता है और इसमें क्या-क्या बदलाव हो सकते है- इस बारे में बात की गयी है | इसलिए अगर आप भी जानना चाहते है कि SEO Kaise Kare, SEO कैसे करे? तो ये आर्टिकल पूरा पढ़िए|

Future of SEo according to Googler's

इन एक्सपर्ट की इस ब्रॉड कास्ट के बाद, एक SEO’s होने के नाते हमे जो Future Of SEO के बारे में महसूस होता है, वो हम आपके साथ इस आर्टिकल में शेयर करना चाहते है| उस ब्रॉड कास्ट के आलावा, ट्विटर पर Google Search Teams के Tweets से भी काफी ज्यादा लोग परेशान होते रहते है तो इस बारे में भी हम इस आर्टिकल में प्रकाश डालेंगे|

Future Of S.E.O

सबसे पहले 11 Nov. 2021 को पब्लिश हुई इस ब्रॉड कास्ट को आपको जरुर देखना चाहिए क्यूंकि गूगल टीम की राय के बारे में जानना भी अति आवश्यक है क्यूंकि ये आर्टिकल भी उसी ब्रॉड कास्ट के उपर आधारित है | आपको गूगल टीम के द्वारा SEO के उपर दी गयी राय के बारे में जरुर जानना चाहिए क्यूंकि इसी से आप जान पाएंगे कि आने वाले टाइम में अपनी वेबसाइट या ब्लॉग का SEO Kaise kare ?

इस पुरे आर्टिकल में हम चर्चा करेंगे कि SEO के अलग-अलग घटकों का आने वाले समय में क्या स्कोप रहेगा ? यहाँ पर हम, SEO में हुए किसी विशेष बदलाव के बारे में बात नहीं करने वाले है बल्कि आने वाले समय में SEO के विभिन्न तत्वों का क्या दृश्य रहेगा और उनकी क्या-क्या इम्पोर्टेंस हो सकती है, इस बारे में हम आज बात करने वाले है |

आइये अब SEO के बारे में Googler’s की भविष्यवाणी के बारे में बारी-बारी से जानते है, जिससे हम Future Of SEO के बारे में अच्छे से जान पाएंगे –

Googler’s Prediction 1: Html Tag 

Google की टीम के सदस्य John के हिसाब से भविष्य में Html की महत्वता इतनी कम हो जाएगी कि SEO’s को Html सिखने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। हम इस तथ्य से बिलकुल भी सहमत नहीं है। 

कई सारे नए bloggers के मन में ये सवाल जरूर होता है कि क्या SEO फील्ड् में सक्सेस होने के लिए Programmer होना जरुरी है या SEO Kaise Kare ? इसका जवाब है – नहीं। लेकिन कम से कम SEO’s के लिए Html और CSS को समझना जरुरी है। 

हम आपको ये बताना चाहते है और शायद ये आप भी जानते हो कि Html कोई Programming Language नहीं है बल्कि ये एक सिंपल Markup Language है जिसे आप 10 दिन में सिख सकते है। 

SEO’s और Bloggers के लिए Html को सीखना इसलिए भी जरुरी है क्यूंकि SEO का मतलब सिर्फ पेज पर कंटेंट लिखना और बैकलिंक बनाना नहीं है।आप चाहे Google Tag Manager और Google Data Studio का इस्तेमाल करे या अपने Page Layout के Issues और अपनी पेज की परफॉरमेंस को चेक करे और यहाँ तक कि आप अपने Stats Codes को चेक करे – इन सब में आपको Html की जानकारी होने से आपका काम आसान हो जाता है। 

अब WordPress जैसे CMS प्लेटफॉर्म्स और भी स्मार्ट हो रहे है और हो सकता है आनेवाले टाइम में इनकी परफॉर्मन्स और भी अच्छी हो जाये लेकिन WordPress को भी सही प्रभावशाली तरीके से प्रयोग करने के लिए और इसके Issues को अच्छे से समझने के लिए भी आपको Html की समझ होना बेहद जरुरी है। 

आपको चाहे Html Language को पेज पर लिखना भले ही नहीं आता हो लेकिन आपको Html और CSS को समझना जरूर आना चाहिए और ये आगे फ्यूचर में भी जरुरी बना रहेगा। 

Googler’s Prediction 2: Java Script

गूगल की टीम के अनुसार Java Script की नॉलेज SEO’s  के लिए आगे और भी ज़्यादा जरुरी हो जाएगी। हम आपको बता दे कि पहले Google Bot, Java Script Rendering में काफी बहुत कच्चा था इसीलिए Java Script पर आधारित Websites को काफी संघर्ष करना पड़ता है | अब जाने SEO Kaise Kare ?

वेबसाइट Developers और SEO’s के बिच में अच्छा सम्बन्ध होना जरुरी है नहीं तो अपना काम बचाने के चक्कर में Developers, वेबसाइट को गूगल से अदृशय बनाकर रखते है और सवाल SEO टीम से पूछा जाता है कि वेबसाइट में ट्रैफिक क्यों नहीं आ रहा है?

ध्यान रहे कि पेज के कंटेंट मे खराब तरीके से यूज़ की गयी Java Script, आपके पेज को Google की नज़र में अदृशय बना सकती है| इसलिए अगर आप Java Script पर आधारित किसी वेबसाइट या एप्प के लिए SEO करने जा रहे है तो आपको JS (Java Script)  समझ में आना भी जरुरी है और Developers के साथ आपका अच्छा सम्बन्ध होना भी जरुरी है|

अभी एक साल पहले तक गूगल, Google Tag Manager से Schema डाटा को सही से यूज़ नहीं कर पाता था| गूगल टैग मेनेजर, Java Script के जरिये ही कोड को पेज में जोड़ता था लेकिन इस प्रिक्रिया के बारे में गूगल खुद सहमत नहीं था | इसलिए आगे भविष्य में अगर SEO’s को Java Script की कार्यसाधक जानकारी होगी तो ये उनके लिए फायदेमंद रहेगा क्यूंकि Java Script पर आधारित Websites और कार्यक्षमताएँ और ज्यादा कॉमन हो जाएगी|

Googler’s Prediction 3: URLs

गूगल की टीम के हिसाब से URLs में कोई बड़ा बदलाव नहीं आने वाला है जिससे URLs के लिए Future Of SEO लगभग समान रहेगा | Googler’s के मुताबिक URLs की आगे भी इम्पोर्टेंस ऐसी ही बनी रहेगी|

क्या आप जानते है कि URLs की क्या अहमियत है ?

URLs सिर्फ किसी पेज का एड्रेस नहीं होते है बल्कि ये एक वेरिफिकेशन टूल भी है | जरा सोचिये कि आप Mahakalblog.com/Contact-us पेज पर जाये और वहां पर आपको एक फ़ोन नंबर दिखाई दे तो आप भरोशा कर सकते है कि ये पेज या फ़ोन नंबर Mahakal-Blog के ऑफिस का होगा लेकिन अगर कोई और दूसरी वेबसाइट xyz.com के किसी पेज में लिखा हुआ है कि Mahakal-Blog के ऑफिस का फ़ोन नंबर ये है तो उस स्थिति में आप पूर्णत: ये हीं मान सकते है कि ये नंबर सही में Mahakal-Blog के ऑफिस का है|

इसका कारण ये है कि Mahakalblog.com/Contact-us पेज पर जो फ़ोन नंबर और जानकारी है उसे मैंने या हमारी टीम ने खुद प्रदान किया होगा और उस URL पर कोई बाहरी इन्सान आकर इनफार्मेशन नहीं दे सकता है | जो भी वेबसाइट का ओनर है सिर्फ उसी के पास उस वेबसाइट और उसके कंटेंट को एडिट करने का विकल्प होता है | इसलिए URL एक वेरिफिकेशन मेथड भी होता है | इससे भी आप जान सकते है कि SEO kaise kare .

अब अगर आने वाले समय में ऐसा कोई तन्त्र आ जाता है जिससे बिना URL के भी ये निश्चित किया जा सकता है कि जो इनफार्मेशन किसी पेज पर मौजूद है वो एकदम सही और जांची हुई है और उसके साथ किसी प्रकार की कोई छेड़-छाड़ नहीं की गयी है तो उससे URL की महवत्ता कम हो सकती है |

URLs की टेक्नोलॉजी में भविष्य में कोई बदलाव नहीं किये जायेंगे जिसका मतलब है कि आप अपने URL में अपने Keywords को डालना जारी रख सकते है|

इस आर्टिकल का उदेश्य है, Future Of SEO या SEO के फ्यूचर के बारे में कल्पना करना है जिससे आप अपनी या अपने क्लाइंट की वेबसाइट के SEO अभियान को अच्छे तरीके से प्लान कर सके !

Googler’s Prediction 4: Meta Tag

Googler’s कोई नया Meta टैग नहीं लाना चाहते है | ऐसा लग रहा कि सर्च टीम कुछ नये Meta Tags को लाना चाहती है लेकिन सर्च इंजन से ताल्लुक रखने वाली टीम इससे सहमत नहीं है | इसलिए आप अपनी वेबसाइट के Meta Tags पर अपना ध्यान बनाए रखिये क्यूंकि इसकी इम्पोर्टेंस अभी बरकार है |

Googler’s Prediction 5: Schema Data

Schema Data अभी भी नये SEO’s के लिए एक पहेली से कम नहीं है | गूगल टीम के हिसाब से Schema Data या Structured Data आने वाले समय में भी महत्वपूर्ण रहेगा |

वास्तव में हम अभी भी जानते है कि गूगल किसी भी वेबपेज के अन्दर की इनफार्मेशन को अच्छे तरीके से समझ लेता है और Schema Data का उदेश्य भी यही होता है कि सर्च इंजन को पेज के कंटेंट के बारे में स्पष्ट तरीके से बताया जा सके |
लेकिन अभी भी गूगल की Machine Learning सिस्टम, पूर्ण और स्पष्ट तरीके से पेज के कंटेंट को नहीं समझ पाता है और उस परिस्थिति में Schema Data, गूगल की उस पेज के कंटेंट को समझने में मदद करता है | यही कारण है कि जब कोई वेबसाइट Schema Data में गड़बड़ करती है तो गूगल उसे Manual पेनल्टी दे देता है |

Add Schema Data In your Website

अब देखा जाये तो गूगल यहाँ पर गलत नहीं है | अब, जब SEO Kaise Kare या वेबसाइट के ओनर को ये पता है कि गूगल के सिस्टम किसी भी पेज को कंटेंट को 100% सही से समझ नहीं पाते है तो वे Schema Data की मदद लेते है और ये गूगल का प्लान भी है और गूगल ये नहीं चाहता है कि उनका प्लान कमजोर हो |

इसी के साथ Gary Illyes ने स्पष्टतः बताया है कि सर्च टीम के लीडर Structured Data के पक्ष में है इसलिए आपको Structured Data को सिखने और उसे अपनी वेबसाइट में सही से लागु करने में जुट जाना चाहिए_अगर आप पहले से ऐसा नहीं कर रहे है तो !

लेकिन अगर आप अपने किसी छोटे बच्चे के लिए वेबसाइट बना रहे है जो उस वेबसाइट को अगले 10-15 सालो तक गंभीरता से इस्तेमाल नहीं कर पायेगा तो उस परिस्थिति में आप Schema Data को नज़रंदाज़ कर सकते है अन्यथा आपको Schema Data पर अपना ध्यान केन्द्रित करना चाहिए |

Googler’s Prediction 6: Indexing

आप में से अनेक लोगो ने Index Now के नियम को जरुर पढ़ा | माइक्रोसॉफ्ट ने Yandex सर्च इंजन के साथ मिलकर Index Now नाम का एक नया रूल लांच किया है | Index Now नियम, Yandex और Microsoft के मिश्रित प्रयास से बनाया गया एक प्रोटोकॉल है जिसमे Websites खुद सर्च इंजन को ये खबर देती है कि हमारे पास नया कंटेंट है और इसे आप क्रॉल कर लो |

अब Google इनसे अलग प्रणाली को अपनाता है | गूगल खुद से Websites पर जाता है और देखता है कि क्या किसी पेज या Sitemap में कोई नया कंटेंट या लिंक जोड़ा गया है और तब Google उस पेज को क्रॉल करके Index करता है | अब ऐसे में गूगल कंटेंट को Pull (खींचता) करता है और Index Now नियम में Websites खुद सर्च इंजन को इनफार्मेशन देती है यानि कि वो इनफार्मेशन को Push(धकेलती) करती है|

इसलिए गूगल Pull नियम का इस्तेमाल करता है और Index Now के साथ बाकि सर्च इंजन Push नियम को अपनाना चाहते है | अब हमारा हमेशा से ये मानना रहा है कि गूगल इस Push मेथड को कभी भी नहीं अपनाना चाहेगा क्यूंकि पहले से ही लोग बहुत ज्यादा स्पैम करते है और गूगल ये कदापि नहीं चाहेगा कि लोगो को स्पैम करने का एक और नया तरीका मिले!

Microsoft Bing और Yandex के पास Indexing के लिए इतने लोग स्पैम नहीं करते है जितने कि लोग Google के पास स्पैम करते है | गूगल की अपनी रिपोर्ट के अनुसार, गूगल हर रोज 4 Billion स्पैम पेजों को हटाता है और जो Future Of SEO में भी लगातार होता रहेगा| अब ऐसे में गूगल Push मेथड को अपनाकर लोगो को एक और नया तरीका नहीं देना चाहेगा जिससे लोग और ज्यादा स्पैम करे| इसलिए Google इस प्रणाली को कभी भी नहीं अपनाएगा |

इन सब बातो को ध्यान में रखते हुए ये निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि आगे भविष्य में Indexing से सम्बंधित कोई बड़ा बदलाव नहीं होने वाला है | हालाँकि, गूगल पेजों को Discover करने में और ज्यादा शातिर हो जायेगा यानी किस पेज को इंडेक्स करना है और किस पेज को इंडेक्स नहीं करना है – इस बारे में गूगल और ज्यादा स्मार्ट हो जायेगा |

दोस्तों, ये थी Future Of SEO से सम्बंधित Googler’s और गूगल टीम की कुछ भविष्यवानिया जिससे आपको ये समझने में कि, SEO Kaise Kare या अपनी वेबसाइट के SEO को लेकर आगे आने वाले समय में क्या रणनीतिया बनाये- मदद करेगी|

निष्कर्ष :

आईये अब इस आर्टिकल में प्रकाशित किए गए सभी बिन्दुओ पर संक्षिप्त रूप से प्रकाश डालते है और देखते है हमे इस आर्टिकल में क्या-क्या सिखने को मिला है –

1. जो फ्यूचर Googler’s देख रहे है उसके हिसाब से Html आगे आने वाले टाइम में SEO’s के लिए इतना महत्वपूर्ण नहीं रहेगा लेकिन हमारे हिसाब से Html आगे भविष्य में और भी ज्यादा जरुरी जायेगा | इसलिए आपको इसे सीखना चाहिए जो आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है |

2. गूगल के experts का कहना है कि भविष्य में Java script की महत्वता बरकरार रहेगी और इस पर हमारा तर्क भी यही है कि आने वाले समय मे Java Script की इम्पोर्टेंस बनी रहेगी |

3. Googler’s के मुताबिक URLs में भी आने वाले समय में कोई बड़ा बदलाव नहीं होने वाला है और इनकी प्रतिष्ठता ऐसी ही बनी रहेगी | आपको अपने URLs में अपने अपने कीवर्ड को जरुरु डालना चाहिए जिससे आपको SEO Kaise kare जानने में मदद मिलेगी|

4. गूगल टीम के अनुसार Schema Data को आपको अपनी वेबसाइट में जरुर लागु करना चाहिए इससे गूगल आपके कंटेंट को अच्छे से समझ पाता है| आने वाले समय में Schema Data में भी कोई बदलाव नहीं होने वाला है|

5.  Indexing को लेकर भी गूगल ने कोई नया प्रोटोकॉल लांच नहीं किया है हालाँकि Microsoft Bing ने Index Now नाम का एक नया प्रोटोकॉल लांच किया है जिससे वो websites के indexing सिस्टम में बदलाव लाना चाहते है लेकिन गूगल इसे कभी भी नहीं अपनाएगा|

आप गूगल टीम के एक्सपर्ट की इन सभी संभावनाए को ध्यान में रखकर अपनी वेबसाइट के हित के बारे में आसानी से सोच सकते है कि आने वाले समय में कौन सी चीजे ज्यादा प्रभावशाली रहेगी और कौन-सी चीजे आपककी वेबसाइट का SEO खराब कर सकती है | उम्मीद है आपको इस कंटेंट में कुछ नया और यूनिक सिखने को मिला होगा और अगर आपको ये जानकारी उपयोगी और लाभदायक लगे तो इसे Share जरुर कीजिये और अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमसे Comment सेक्शन के मध्यम से जुड़ सकते है|

Categories SEO

नमस्कार दोस्तों, मैं Mahakal-Blog का फाउंडर हु | ब्लॉग्गिंग करना मेरा प्रोफेशन है और मेरी रूचि, नई-नई चीजो के बारे में जानकारी अर्जित करना और उसे ब्लॉग्गिंग के मध्यम से लोगो के साथ शेयर करने में है | इस ब्लॉग को बनाने के पीछे हमारा मकसद यह है कि हम आपको ब्लॉग्गिंग और डिजिटल मार्केटिंग से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी एकदम सरल भाषा हिंदी में उपलब्ध करवा सके !

Share For Support:

Leave a Comment