How to setup Cloudflare CDN and Cloudflare Plugin in website

How To Setup Cloudflare CDN:

CDN यानि Content Delivery Network, जब आप एक वेबसाइट बनाते है तो इसके लिए आप एक Hosting Company पर अपना अकाउंट बनाते है और अपनी वेबसाइट कि फाइल्स को उस अकाउंट पर अपलोड कर देते है | अब इन सारी फाइल्स को Hosting Company एक कंप्यूटर पर स्टोर करती है |

अब ये कंप्यूटर किसी एक खास लोकेशन पर होगा लेकिन आपकी वेबसाइट को Use करने वाला दुनिया में कही पर भी हो सकता है इसलिए आपकी वेबसाइट की फाइल्स उस एक लोकेशन से सारी वेबसाइट के Users कि लोकेशन तक बार-बार Travel करती है | अब ये फाइल्स में आने-जाने में लगने वाला टाइम आपकी WordPress Website को slow कर देता है |

What is CDN ?

How To Setup Cloudflare CDN in website
How To Setup Cloudflare CDN

आपकी वेबसाइट को Slow कर देने वाली इस Problem का Solution है – आपकी वेबसाइट के Hosting Server पूरी दुनिया में हर जगह मौजूद होते तो वेबसाइट की फाइल्स को इतना लम्बा ट्रेवल नहीं करना पड़ता और CDN यानि Content Delivery Network यही काम करता है |

CDN में Network पहले से मौजूद होता है, ये दुनियाभर में फले हुए Servers का एक नेटवर्क होता है, जो आपकी वेबसाइट से फाइल्स को उठाकर अपने Servers पर  Temporary Memory यानि Cache में Save कर लेता है| अब ऐसे में जो भी Visitor, जहाँ से भी आपकी वेबसाइट को Visit करना चाहता है, उसे उसके सबसे करीबी Servers से इन फाइल्स को Deliver कर देता है, जिससे आपकी वेबसाइट फ़ास्ट हो जाती है | अगर आप भी How To Setup Cloudflare CDN के बारे में विस्तार से जानना चाहते है तो इसे आर्टिकल को पूरा पढ़े –

Other Advantages Of CDN:

Cloudflare CDN Setup WordPress में CDN के और भी कई फायदे है जैसे कि-

1. Free CDN Cloudflare से आपके Hosting Server का Load कम हो जाता है |अगर आप एक Startup या Beginner है और आप एक सस्ती या Shared Hosting इस्तेमाल करते है, तो आपको Cloudflare CDN से परफॉरमेंस में भी फायदा होगा और अगर आप एक E-Commerce वेबसाइट चला रहे है और आप Users के आधार पर Hosting Servers का बिल Pay करते है तो आपको Billing में भी फायदा मिलेगा |

2. अपनी वेबसाइट में Content Delivery Network (CDN) का प्रयोग करने से वेबसाइट की Availability बढती है जिससे उसका Downtime कम हो जाता है | Hosting Servers भी कंप्यूटर कि तरह CPU और RAM पर चलते है | जब किसी यूजर के मोबाइल में आपकी वेबसाइट लोड होती है, उस टाइम आपका Server का CPU और RAM बहुत ज्यादा लोड झेल रहा होता है और अगर बहुत सारे यूजर एक साथ ही आपकी वेबसाइट को visit करेंगे तो आपका कंप्यूटर Slow हो जाएगा यानि कि आपकी वेबसाइट का Server Slow हो जायेगा |

इसलिए अगर आप अपनी वेबसाइट पर Free CDN Cloudflare का इस्तेमाल करते है तो यूजर को फाइल्स सीधे Cloudflare के Server से मिलेगी और यूजर को आपकी वेबसाइट के Server तक जाने की जरुरत ही नहीं पड़ेगी जिससे Server के लोड के कारण आपकी वेबसाइट Slow नहीं होगी |

3.  Free Cloudflare CDN के प्रयोग से आपकी Website Security बढ़ जाती है | Hosting Companies कई बार Rate Provide करने के चक्कर में Security प्रदान नहीं कर पाती है लेकिन Free Cloudflare CDN अच्छी Security Provide करते है | अगर किसी खास वेबसाइट से संदेहजनक ट्रैफिक आता दिखाई देता है तो उसे Content Delivery Network (CDN) रियल टाइम में Detect कर सकते है |

4.  अपनी वेबसाइट में Content Delivery Network (CDN) के इस्तेमाल से User Experience अच्छा हो जाता है | CDN आपकी वेबसाइट से फाइल्स को Pick कर लेते है लेकिन यूजर जको उनके Device के आधार पर ही फाइल्स भेजते है |यूजर को सिर्फ वही फाइल्स डाउनलोड करनी पड़ती है जिसकी उसे जरुरत है, इससे आपकी वेबसाइट की परफॉरमेंस बढ़ जाती है जिससे User Experience अच्छा हो जाता है |

5. Cloudflare CDN काफी सस्ता है | इतने सारे Benefits के बावजूद CDN काफी सस्ता है | Cloudflare CDN का एक Free Plan भी मौजूद है जिसे आप किसी भी वेबसाइट के लिए Use कर सकते है|

लेकिन यहाँ पर कुछ ऐसे पॉइंट्स भी है जिसे आपको How To Setup Cloudflare CDN की जानकारी लेने से पहले जान लेने चाहिए –

Things to remember before using CDN:

1. Content Delivery Network (CDN) कोई Magic Solution नहीं है जो आपकी वेबसाइट को फ़ास्ट कर देगा | जैसा की मैंने आपको अभी बताया है कि CDN सिर्फ आपकी फाइल्स को अपने Server पर Cache के रूप में Save करता है ताकि सबसे नज़दीकी Server से यूजर को Deliver कर सके | इसलिए अगर आपकी वेबसाइट के कोड में ही कोई फाल्ट है जिसकी वजह से आपकी Website Slow  हो रही है तो ऐसे में वो वेबसाइट CDN पर भी Slow बनी रहेगी |

अगर आपकी वेबसाइट की CSS & JS Files Minified नहीं है तो वे CDN पर भी ऐसी ही रहेगी | इसलिए CDN को ये सोचकर मत सेलेक्ट कीजिए कि सिर्फ यही चीज आपकी वेबसाइट को फ़ास्ट कर देगी जब कि ऐसा नहीं होने वाला है |

2. Content Delivery Network (CDN) हर वेबसाइट के लिए जरुरी नहीं है | उदाहरण के लिए – अगर आपकी वेबसाइट किसी ऐसे Business के बारे में है जो India के सिर्फ एक शहर में ही काम करता है तो उसके Visitors भी सिर्फ उसी शहर से होंगे | ऐसे में आपको किसी CDN की जरुरत नहीं है | अगर आपकी वेबसाइट किसी ऐसी Hosting पर Hosted  है  जिसका सर्वर इंडिया में ही मौजूद है तो ऐसे  में CDN से आपको कोई ज्यादा लाभ नहीं होगा |

यहाँ पर एक दूसरा पॉइंट भी है मान लीजिये आपकी वेबसाइट का Hosting Server कैलिफोर्निया में है और आपका Local Buisness इंदौर में है तो आपको Cloudflare CDN के Free Plan से भी फायदा होगा क्यूंकि Clodflare के Server –  India, Bangalore, Chennai, Hyderabad, Mumbai, Calcutta, Nagpur और New Delhi में है तो आपके यूजर को उसके सबसे करीबी सर्वर से फाइल्स मिल जाएगी |

हमने CDN के फायदे और नुकसान के बारे में जान लिया है |  मार्किट में तीन ऐसे CDN है जिन्हें मैं आपको  Recommend करना चाहूँगा – Cloudflare, Stackpath और KeyCDN.इन तीनो CDN की अपनी-अपनी क्षमता है और इन सबको Setup करने का तरीका भी अलग-अलग है लेकिन अगर आप Free CDN इस्तेमाल करना चाहते है तो आपको Cloudflare को Use करना चाहिए क्यूंकि Cloudflare Performance, Security और Uptime के मामले में बहुत अच्छा है और ये CDN सबसे ज्यादा पोपुलर है आपने जरुर इस CDN का नाम सुना होगा|

 इसलिए अब हम अपने मुद्दे How To Setup Cloudflare CDN के और चलते है और देखते है कि कैसे हम अपनी वेबसाइट को Cloudflare CDN के साथ लिंक करके अपनी Website को Fast बना सकते है –

Cloudflare CDN Setup WordPress:

1. अपनी वेबसाइट ने Cloudflare CDN को सेटअप करने के लिए सबसे पहले Cloudflare की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाईये और वहां पर अपना एक Free Account बनाईये |

2. अकाउंट बनाने के बाद आपको इस तरह का डैशबोर्ड दिखाई देगा (Image 1.2) इसमें Add Site पर क्लिक करके अपनी वेबसाइट का Domain Name टाइप करिए |

How To Setup Cloudflare CDN
Cloudflare Add Site Option

3. इसके बाद आपको Cloudflare CDN के Plans देखने को मिल जायेंगे, जिसमे आप Free Plan को सेलेक्ट कर सकते है | एक नार्मल ब्लॉग के लिए Cloudflare CDN Setup WordPress का फ्री प्लान काफी है इसमें आपको आपकी वेबसाइट के लिए अच्छे Features मिल जायेंगे |

4. इसके बाद Cloudflare CDN आपके Domain के सारे Records की एक लिस्ट दिखायेगा जिसमे ये Yellow Icons बने हुए है इन सबको Cloudflare CDN अपने आप Proxy कर लेगा और बाकि बचे हुए को ये हैंडल नहीं करेगा | वैसे तो इस लिस्ट के बारे में हम काफी बात कर सकते है |इस लिस्ट का बड़ी websites में काफी बड़ा रोल होता है और इनके इस्तेमाल से आप अपनी वेबसाइट में बहुत सारे Features यूज कर सकते है | लेकिन अभी के लिए हम इसे यही छोड़ते है क्यूंकि अभी शायद ये हमारे लिए उपयोगी नहीं है इसलिए आप निचे Continue पर क्लिक करेंगे |

5. इसके बाद Cloudflare CDN आपको आपकी Domain Name की Ownership Verify करने को बोलेगा| Cloudflare CDN आपके Domain Name के मौजूदा Nameserver दिखायेगा जो अभी आपके domain Name में इस्तेमाल हो रहे है और ठीक उसी के निचे ये आपको अपने दो नये Nameserver देगा, जिन्हें अब आपको यूज करना है |

How To Setup Cloudflare CDN
Cloudflare CDN Nameservers

इन दोनों नये Nameserver को आप Notepad में Save कर सकते है और अपनने Domain Name Registrar Account में लॉग इन करके पुराने Nameserver को हटाकर ये दो Nameserver Add कर दीजिये Add करने के बाद Done, Check Nameserver पर क्लिक कर दीजिये |

Note: यहाँ पे एक सबसे ज्यादा पूछे जाना वाला सवाल है कि Domain Name के Nameserver बदलने पर क्या उनकी Hosting change नहीं हो जाएगी ?

वैसे तो ये सवाल एक बार सोचने में सही लगता है लेकिन हकीकत में ऐसा नही है | जब आप अपने  Nameservers को Cloudflare के साथ change करते है तो Cloudfllare अपने पास सिर्फ DNS Records को रख लेता है और आपकी Hosting वही पर बनी रहती है जहाँ पर वो पहले थी | अभी आपने इस प्रोसेस से पहले जो DNS Records कि लिस्ट देखी थी, उसी Window पर cloudflare आपके DNS Records को चेक कर लेता है और इन्हें वो अपने पास Save कर लेता है |

अब Cloudflare ने ये रिकॉर्ड कर लिया है कि आपकी होस्टिंग का सर्वर किस IP Address पर है, आपका Mail Server कहाँ है और आपका Http सर्वर किस IP पर है | जैसे ही आप अपने Nameservers को Cloudflare के Nameservers के साथ Change करते है, Clouflare आपकी होस्टिंग से सारी फाइल्स को कॉपी कर लेता है और इसे वो अपने पास save कर लेता है | अब जो कोई भी आपकी वेबसाइट को visit करेगा उसे ये सारी फाइल्स अपने पास से provide करता है |

अब ऐसा वो तभी कर सकता है जब Cloudflare के पास ये इनफार्मेशन होगी कि कोई आपकी वेबसाइट को visit कर रहा है और ये इनफार्मेशन cloudflare को आपके पुराने Nameservers के साथ Cloudflare के दिए गए Nameservers को change करने पर मिलती है |

इसलिए आप बिना किसी चिंता के अपने Nameservers को Cloudflare के Nameservers के साथ बदल सकते है, इससे आपको कोई भी परेशानी नहीं होगी और ना ही आपकी होस्टिंग बदलेगी |

6. इसके बाद ये आपके सामने कुछ Basic Settings को सेटअप करने को बोलेगा जिसमे आपको चारो settings को ON कर देना है जो इस प्रकार है –

Automatic HTTPS Rewrites: ON

Always use HTTPS: ON

Auto Minify: JS, CSS, HTML

Brotli: ON

6. अब आप Cloudflare CDN के Dashboard – Overview के सेक्शन में आ जायेंगे | यहाँ पर आपको ये फिरे से आपके Nameserver Change करने को बोलेगा जबकि आप ऐसा पहले कर चुके है |

यहाँ पर घबराने की जरुरत नहीं है, आपने कुछ भी मिस नहीं किया है | Nameserver change को पूर्ण रूप से प्रभावी होने में 24 घंटे तक लग सकते है और कई बार ये प्रोसेस कुछ मिनटों में भी पूरा हो जाता है | इसलिए अगर आपको ये Nameserver  की Window  दोबारा दिखाई दे रही है तो आप 24 घंटे तक इंतजार करिए, ये अपने आप Solve हो जायेगा |

अब आपका How To Setup Cloudflare CDN का प्रोसेस पूरा हो चूका है और आपकी वेबसाइट Successfully Cloudflare CDN से connect हो चुकी है | आपका Cloudflare Account पहले से ही Best performance के लिए Optimized है लेकिन अगर आप अपने इस Free Cloudflare Plan से थोड़ी एक्स्ट्रा वैल्यू प्राप्त करना चाहते है तो कुछ ऐसी Settings जिन्हें आप Use कर सकते है –

Cloudflare Extra Value Settings:

1. सबसे पहले Left side में Menu में Speed को सेलेक्ट कीजिए और इसके बाद  Optimization पर क्लिक कीजिए | यहाँ पर आपको थोडा निचे स्क्रॉल करने पर Rocket Loader नाम का एक आप्शन देखने को मिलेगा, इसे ON कर दीजिये | ये आपकी वेबसाइट में Javascript रेंडरिंग में हेल्प करता है |

2. अब आप इसी Menu में Caching को सेलेक्ट करेंगे और इसकी Optimization टैब में आयेंगे | इसमें आप Browser Cache TTL को 10-12 Days पर सेट कर दीजिये | अगर आप की वेबसाइट जल्दी-जल्दी अपडेट होती है तो इस टाइम को एक दिन पर सेट कर सकते है |

इसके आलावा बाकि सारी Settings Optimized है  या फिर Paid Accounts के लिए Available है, Free Settings इतनी ही Available है | इस तरह से आप अपना थोडा समय लगाकर अपनी वेबसाइट पर पड़ रहे Load को कम कर सकते है | हमने आपको How To Setup Cloudflare CDN की पूरी प्रक्रिया दिखा दी है |

Cloudflare Plugin WordPress:

SEO और Website  की दुनिया में Cloudflare एक जाना-पहचाना नाम बना गया है | एक Leading CDN Company जो हर एक छोटी-से –छोटी और बड़ी से बड़ी वेबसाइट को Basic CDN Service फ्री  में उपलब्ध करवाती है | हर  Performance Plugin और हर अच्छी Hosting Company, Cloudflare CDN को Integrate करने का Option खुद देती है | लेकिन अब Cloudflare CDN ने एक कदम आगे बढ़कर WordPress के लिए अपना खुद का Cloudflare Plugin लांच किया है, जो आपकी वेबसाइट को ना सिर्फ CDN Services देता है बल्कि उसका Pagespeed Insights Score बढाने में भी मदद करता है |

ये Plugin कौन सा है और इसे कैसे Use किया जाता है, अब हम इसे Step By Step देखेंगे :

How To Setup Cloudflare Plugin WordPress:

1. Cloudflare Plugin को अपनी वेबसाइट में इनस्टॉल करने के लिए सबसे पहले अपने WordPress  Panel में Plugins के सेक्शन में जाना होगा | वहां पर आप Add New पर क्लिक करेंगे और उपर Search Bar में टाइप करेंगे Cloudflare. सर्च रिजल्ट्स में दिख रहे Cloudflare Plugin को आप इनस्टॉल करके Activate करेंगे |

How To Setup Cloudflare CDN
Cloudflare Plugin In WordPress

2. अब इस Cloudflare Plugin की Settings में जाने के लिए आप अपने Installed Plugin में से Cloudflare को देखेंगे और उसी के निचे आपको Setting का आप्शन मिलेगा या आपको अपने WordPress डैशबोर्ड के Left Sidebar में Settings → Cloudflare पर क्लिक करना होगा |

3. settings में आने के बाद अब हम देखेंगे How To Setup Cloudflare CDN.इसकी सेटिंग में आने के बाद सबसे पहले आपको Cloudflare के Account में लॉग इन करना होगा | जैसा कि उपर बताये गए स्टेप्स में हम ने अपना एक Cloudflare अकाउंट बना लिया था, इसलिए हम यहाँ पर लॉग इन करेंगे और अगर आपका कोई Cloudflare अकाउंट नहीं है तो आप यहाँ से अपना Cloudflare Free Account भी बना सकते है, जिसका Process मैं आपको पहले बता चूका हु |

4. log in करते वक्त ये आपसे आपकी Global API Key भी मांगेगा, जो आपको आपके Cloudflare Account में मिलेगी | इसलिए आप अपने ब्राउज़र में Clodflare के अकाउंट में लॉग इन करिए | लॉग इन करने के बाद आपको इसके डैशबोर्ड के Overview सेक्शन में आ जायेंगे | इसी Tab में आप निचे स्क्रॉल करंगे और Right Side में आपको API आप्शन के निचे Get Your API Token का एक लिंक दिखाई देगा, इस पर क्लिक करना है|

How To Setup Cloudflare CDN
Global API Key

इसके बाद आपके सामने एक नयी window खुल जाएगी, इसमें आपको निचे Global API Key के सामने View का बटन दिखाई देगा, इस पर क्लिक करना है और Security Reason के कारण ये आपसे पासवर्ड पूछेगा, आपको अपना पासवर्ड डाल देना है | अब आपको ये आपकी Global API Key provide कर देगा, आपने इसे यहाँ से कॉपी कर लेना है  और वापिस WordPress डैशबोर्ड में जाकर इसे पेस्ट कर दीजिये और अब आप इसमें लॉग इन हो जायेंगे |

अब आपने Cloudflare Plugin को WordPress के साथ Successfully लिंक कर लिया है, जिससे हमने How To Setup Cloudflare CDN के प्रोसेस को पूरा कर लिया है | इस Plugin को सेटअप करने में भले ही थोडा समय लगता हो लेकिन इसे Use करना बहुत आसान है |

Cloudflare CDN Setup WordPress :

अगर आप अपनी वेबसाइट में Best Cloudflare Settings को अप्लाई करना चाहते है तो आपको इस प्लगइन के होम पेज में सबसे पहली सेटिंग (Apply Recommend Cloudflare Settings For WordPress) के सामने  Apply पर क्लिक कर देना है और आपका काम हो जायेगा | आपको अलग-अलग Tabs में जाकर सभी Options को सेलेक्ट करने की कोई आवश्यकता नहीं है | इस Apply बटन से आपकी सारी बेस्ट settings ON हो जाएगी |

इस प्लगइन के Free Plan कि जो भी setting आप use कर सकते थे वे इस Apply बटन पर क्लिक करने से सारी सेटिंग ON हो चुकी है इसलिए अगर आप इसके और भी Features को use करना चाहते है तो आपको इसके Paid Plan को लेना होगा लेकिन अगर आपकी वेबसाइट ज्यादा बड़ी नहीं है, एक नार्मल सी वेबसाइट है तो आपका काम इसके फ्री प्लान से भी चल जायेगा |

Advanced Guide :

कम लोड टाइम यानि कि फ़ास्ट वेबसाइट और फ़ास्ट वेबसाइट यानि कि बेटर रैंक. लेकिन सिर्फ मैं बोल रहा हु इसलिए Cloudflare CDN को इस्तेमाल मत कीजिए | इस आर्टिकल के उपरी हिस्से में जो मैंने बाते की है उन्हें गोर से समझिए और अगर आपको वो ठीक लगे या अगर आपको लगे कि ये आपकी वेबसाइट के लिए सही रहेगा तभी इस Cloudflare CDN को यूज कीजिए |

SEO कोई काला जादू नहीं है, ये बहुत ही सिंपल प्रोसेस है | हम इसकी हर ट्रिक के पीछे का Logic समझ सकते है | अगर कोई भी आपको ऐसी ट्रिक या टिप बता रहा है जिसका logic वो आपको समझा नहीं सकता है, उसको Support करने लायक कोई भी Document या Google का कोई भी ब्लॉग उसे नहीं दिखाता है और ना ही गूगल अकाउंट का कोई Tweet इसे Show करता है – तो इसका मतलब है कि वो शत-प्रतिशत झूठ बोल रहा है और ऐसे लोगो से आपको अपने आपको, अपने बिज़नस, अपनी वेबसाइट और अपने क्लाइंट  को बचाना है |

FAQ:

What is CloudFlare CDN?

CloudFlare CDN एक content Delivery Network है, जो सब जगह usres को कंटेंट deliver करता है | ये आपकी वेबसाइट और आपके कंटेंट को बेहतर ढंग से ऑप्टिमाइज़ करके आपके यूजर तक पहुंचाता है| अगर आपका कोई यूजर आपकी वेबसाइट को किसी ऐसी लोकेशन से एक्सेस करता है, जहाँ पर आपकी होस्टिंग कंपनी के Servers मौजूद नहीं है, ऐसे में CloudFlare CDN उस यूजर तक आपकी फाइल्स को तेज़ी के साथ भेजता है, जिससे आपके यूजर को आपकी वेबसाइट कभी slow प्रतीत नहीं होती |

What is the benefit of using CDN?

आज के टाइम में हर छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी वेबसाइट अपने users तक फाइल्स को पहुँचाने में CDN का इस्तेमाल करती है | CDN से अपनी वेबसाइट को लिंक करने के अनेक फायदे है जैसे – Better Performance, Increased reliability, Cost savings और Stop Cyber Attacks. इन्ही विशेषताओ के कारण आज बड़े पैमाने पर  Web Applications, CDNs का इस्तेमाल करती है |

How does a CDN server work?

CDN एक नेटवर्क है, जो आपके कंटेंट को एक Origin Server से सभी जगह पर भेजता है | CDN आपकी Hosting कंपनी से आपकी सभी फाइल्स को अपने पास Save कर लेता है और उसके बाद यूजर आपकी वेबसाइट को कही से भी visit करता है तो CDN के दुनिया भर में अलग-अलग लोकेशन पर Servers होने के कारण उस यूजर को उसके सबसे करीबी सर्वर से फाइल्स भेज दी जाती है, जिससे आपकी वेबसाइट की स्पीड और performance बनी रहती है और इससे आपकी होस्टिंग के सर्वर का लोड भी कम होता है|

नमस्कार दोस्तों, मैं Mahakal-Blog का फाउंडर हु | ब्लॉग्गिंग करना मेरा प्रोफेशन है और मेरी रूचि, नई-नई चीजो के बारे में जानकारी अर्जित करना और उसे ब्लॉग्गिंग के मध्यम से लोगो के साथ शेयर करने में है | इस ब्लॉग को बनाने के पीछे हमारा मकसद यह है कि हम आपको ब्लॉग्गिंग और डिजिटल मार्केटिंग से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी एकदम सरल भाषा हिंदी में उपलब्ध करवा सके !

Share For Support:

Leave a Comment