Guest Blogging Service क्या है? Submit Quality Guest Post

नमस्कार दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम Guest Blogging Service या Guest Post के बारे में विस्तार से जानेंगे | Guest Post, SEO के अन्दर एक काफी पोपुलर टॉपिक और  गतिविधि है| इसलिए इस आर्टिकल में जानेंगे कि-
  • Guest Post के क्या फायदे होते है?
  • Guest Blogging Service के लिए सर्वोतम अभ्यास क्या होता है?
  • Guest पोस्ट के जरिये आप अपने SEO में कैसे सुधार कर सकते है?
What is Guest Post And Guest Blogging Service

Guest Post और इसके फायदे:

SEO में गेस्ट पोस्ट का अर्थ मेहमान नहीं होता है बल्कि इसका यहाँ पर कुछ और ही अर्थ होता है| ये एक अकेला टॉपिक है जिसमे SEO’s सिक्के के दोनों तरफ होते है क्यूंकि आप खुद भी काफी सारी Websites पर Guest पोस्ट करना चाहते है और साथ ही ये भी तमन्ना रखते है कि हमारी वेबसाइट पर अच्छी वेबसाइट और स्त्रोतों से गेस्ट पोस्ट आये| गेस्ट पोस्ट के चार सबसे बड़े फायदे होते है-

1. Guest Posting का सबसे स्पष्ट फायदा ये होता है कि आपको यहाँ से एक Backlink मिलता है| इसमें आप एक अच्छी वेबसाइट के एक कंटेंट लिखते है और इसके बदले में आपको उस वेबसाइट से एक हाई क्वालिटी Backlink मिलती है | लेकिन यहाँ पर आपको कुछ चीजो का ध्यान रखना जरुरी है –

आप जिस भी वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट करने जा रहे है, उनसे पोस्ट के फॉर्मेट और लिनक्स के बारे में पहले से पूछताछ कर लीजिये और ये कोशिश कीजिये कि आपको अपनी ब्लॉग पोस्ट के कंटेंट के उपरी भाग में ही एक Backlink जरुर मिले| जितनी उपर आपकी Backlink होगी आपके लिए उतना ही अच्छा रहेगा| ये आवश्यक नहीं है कि ये backlink आपकी वेबसाइट के Home Page के लिए हो, आप अपने किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस पेज के लिए भी ये Backlink ले सकते है|

2. Guest Blogging Service से आप अपना  E.A.T. ( Expertise Authoritativeness Trustworthiness) स्कोर बढ़ा सकते है| हर एक गेस्ट पोस्ट के निचे एक Author Bio होता है और इस एरिया को आप इस्तेमाल करके अपनी अथॉरिटी स्थापित कर सकते है| ये Author Bio या About Author वाले सेक्शन का सही तौर पर आप अपने लिए इस्तेमाल करिए ना कि अपनी वेबसाइट के लिए| इतना तो स्पष्ट है कि कोई भी वेबसाइट किसी ब्लॉग को नहीं लिखेगी बल्कि किसी न किसी जीवित इन्सान ने ही उस ब्लॉग को लिखा होगा |

आप उस Author Bio के जरिये ऑडियंस से अपने सम्बन्ध भी बना सकते है | आप उस Author Bio के सेक्शन में अपने बारे में एक छोटा सा विवरण दे सकते है और उसके साथ में अपनी कुछ पर्सनल सोशल मीडिया के Links भी वहां जरुर दीजिये, जिससे अगर किसी को आपके बारे में और ज्यादा जानकारी हासिल करनी हो तो वो आपकी सोशल मीडिया प्रोफाइल्स पर जाकर ले सके | इस तरह से ऑडियंस सिर्फ आपके उस आर्टिकल तक सिमित नहीं रहेगी बल्कि सही मायने में वो एक Reader और Fan में भी बदल सकती है |

3. आप जिस भी वेबसाइट पर Guest Post कर रहे है, वहां से आपको एक अच्छा ट्रैफिक मिल सकता है लेकिन इसके लिए ये जरुरी है कि आप किसी अच्छी वेबसाइट पर ही गेस्ट पोस्ट करे| इसके बारे में आगे हम और विस्तार से जानेंगे|

4. एक वेबसाइट पर की हुई अच्छी गेस्ट पोस्ट आपके ना सिर्फ उस वेबसाइट के ओनर के साथ सम्बन्ध बनाती है बल्कि मिलती-जुलती इंडस्ट्री के Webmasters के साथ भी सम्बन्ध बनाने का अवसर प्रदान करती है| हमेशा याद रखिये कि अगर आपको एक सामान्य वेबसाइट से आगे चलकर Backlinks बनानी है तो इसके लिए आपको सम्बन्ध बनाने पड़ेंगे | अगर आप अपनी और अपनी वेबसाइट की अथॉरिटी बनाना चाहते है तो आपको अपनी वेबसाइट के समान इंडस्ट्री वाले websites के owners के साथ अपने सम्बन्ध बनाने पड़ेंगे|

तो दोस्तों, ये थे Guest Blogging Service या गेस्ट पोस्ट के कुछ फायदे | आईये अब जानते है कि आखिर आपको किस तरह की Websites पर गेस्ट पोस्ट करनी चाहिए या अगर कोई आपके पास आता है आपकी वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट करने के लिए तो आपको किस तरह की Websites से गेस्ट पोस्ट करवाना चाहिए?

Guest Post कैसे करे ?

जब आप किसी वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट करते है तो आपका लक्ष्य है उस वेबसाइट की ऑडियंस की समस्या को हल करना |

उदाहरण के लिए अगर आपकी एक Bakery की साईट है और आपको एक गेस्ट करनी है, तो आप एक ऐसे वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट कर सकते हो जहाँ पर केक बनाने वाले टूल्स मिलते है |अब केक टूल्स खरीदने वाले लोग, आपकी Bakery से केक खरीदने वाले लोगो से पूर्ण रूप से मेल नहीं खायेंगे | लेकिन आपका लक्ष्य है केक टूल्स खरीदने वाले लोग – अब आपकी भी एक Bakery शॉप है और जाहिर है कि आप भी केक बनाने वाले टूल्स का इस्तेमाल करते हो तो आप उन लोगो को अपने अनुभव से ये बता सकते हो कि किसी खास टाइप के टूल्स क्यों अच्छे होते है, आपको किस प्रकार का केक बनाने के लिए किस टूल का प्रयोग करना चाहिए और आप अपने अनुभव से उन्हें कुछ practical टिप्स और ट्रिक्स दे सकते हो |

कुल मिलाकर आपका टारगेट ये रहेगा कि आप जिस भी वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट कर रहे है आप उनकी ऑडियंस की समस्या का समाधान करे| अब आपको इतना परोपकारी इसलिए बनना पड़ेगा क्यूंकि इस केक टूल वाली वेबसाइट पर आने वाले लोग सिर्फ केक टूल्स के बारे में ही कंटेंट को ढूंढ रहे है ना कि आपकी Bakery के बारे में | अब इस केक टूल्स वाली वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट करने का फायदा ये होगा कि आपको एक ऐसी वेबसाइट से Backlink मिलेगी जिस पर अच्छा ट्रैफिक है और केक टूल्स वाली वेबसाइट आपकी Bakery वेबसाइट से रिलेटेड है इसलिए ये Backlink आपसे मिलती-जुलती होगी और इस प्रकार की Backlnks आपके लिए बेस्ट क्वालिटी रहती है|   

मिलती-जुलती Niche के आलावा आपको देखना चाहिए कि जिस भी वेबसाइट पर आप गेस्ट पोस्ट कर रहे है उसका ट्रैफिक अच्छा हो और ट्रैफिक को देखते वक्त उस वेबसाइट की इंडस्ट्री पर भी जरुर ध्यान दे | कई इंडस्ट्रीज और Niches में काफी ज्यादा ट्रैफिक होता है और कुछ में ट्रैफिक कम होता है और ये उनके कंटेंट पर निर्भर करता है |

Domain Authority का Guest Post से सम्बन्ध:

1. एक और मीट्रिक जो देखा जाता है लेकिन इसे नहीं देखा जाना चाहिए वो है DA (Domain Authority). अगर आप DA की सच्चाई और इसकी महत्वता के बारे ने जानना चाहते है तो आप यहाँ What is DA पर क्लिक करे !

कुछ लोगो को DA के बारे में पूरी तसल्ली नहीं हुई है उनका ये कहना है कि अगर DA वास्तव में रैंकिंग फैक्टर नहीं ही तो क्यों इतने सारे लोग इसका जिक्र करते है ? इसका सबसे पहला संकेत है कि MOZ खुद अपनी ऑफिसियल वेबसाइट पर स्पष्ट कर रहा है कि DA का Google की रैंकिंग से कोई लेना-देना नहीं है | अब अगर DA स्कोर बनाने वाली कंपनी ही बता रही है कि DA (Domain Authority), गूगल रैंक का हिस्सा नहीं है तो फिर इसमें संदेह करने को बचा ही क्या है !

Moz Website Domain Authority Article

2. DA का सबसे ज्यादा इस्तेमाल Guest Posting के लिए किया जाता है और Guest पोस्ट के लिए सबसे अच्छी वेबसाइट को ढूंढने के लिए | एक समय था जब गूगल Backlinks की अहमियत सिर्फ ज्यादा ट्रैफिक वाली websites से जुड़े होने पर गिनता था | इसके बाद Google ने No Follow रिलेशनशिप प्रस्तुत किया और DO Follow रिलेशनशिप वाली हाई ट्रैफिक वाली Websites से मिलने वाली Backlinks को Google महत्त्व देने लगा | लेकिन अब Google और ज्यादा विकसित हो चूका है और अब Google सिर्फ ट्रैफिक को देखकर ख़ुश नहीं होता है बल्कि ट्रैफिक की गुणवता भी देखता है और कहाँ से ट्रैफिक आ रहा है और कहाँ ट्रैफिक जा रहा है, उस सम्बन्ध को भी गूगल अब समझता है|

इसलिए उचित वेबसाइट और ट्रैफिक से मिलने वाली Backlink जो पेज में द्र्श्यमान जगह पर हो, Google उन्हें महत्त्व देता है| लेकिन Google की तरह Moz का DA विकसित नहीं हो रहा है इसलिए अगर आप सिर्फ DA के सहारे Guest पोस्ट और Backlinks के स्त्रोत खोजेंगे तो हो सकता है कि आप कुछ ऐसी websites को नज़रंदाज़ कर दे जो आपके और आपकी वेबसाइट के लिए बहुत अच्छी है और ऐसा भी हो सकता है कि आप ऐसी Websites से Backlinks ले, लें जिनका DA आर्टिफीसियल तरीके से बढ़ा हुआ है लेकिन ना तो उनका ट्रैफिक आपकी इंडस्ट्री से मेल खाता है और ना ही आपको दी गयी backlink सही जगह मौजूद है |

Guest Post के लिए Websites कैसे ढूंढे:

दोस्तों, मेरा काम और मेरा लक्ष्य आपको वास्तविक जानकारी देना है और उस पर भरोसा करना या ना करना ये पूरी तरह से आपके उपर निर्भर करता है| Guest Blogging Service या गेस्ट पोस्ट के लिए वेबसाइट को खोजते वक्त अगर आपको मिलते-जुलते टॉपिक्स की websites नहीं मिलती है तो आप दो और तरीके Try कर सकते है –

1. Audience Match

2. Location Match

हम वापस से Bakery के उदाहरण से इसको समझने की कोशिश करते है – Bakery की वेबसाइट Cake Tools बनाने वाली वेबसाइट की इंडस्ट्री से मेल खाती है लेकिन Party Planner नाम की एक और वेबसाइट जिसके साथ आपकी ऑडियंस मैच हो रही है | इसलिए अगर कोई केक खरीद रहा है तो हो सकता है उसे पार्टी भी करनी हो | यहाँ पर इन दोनों की ऑडियंस आपस में मैच कर रही है |

इसी तरह से अगर आपको इंडस्ट्री और ऑडियंस से मिलती-जुलती Websites नहीं मिल रही है तो आप Location Match को try कर सकते है | आप अपने नजदीकी शहर वाली websites को टारगेट करिये और उनसे बात करिए | ये तरीका लोकल बिज़नस में ज्यादा काम आता है|

Linking in Guest Post:

जब आप अपनी गेस्ट पोस्ट में linking करे तो जबरदस्ती कहीं पर लिंक न दे बल्कि Natural तरीके से लिंक दीजिये | आपकी पोस्ट में कहीं पर कोई फैक्ट, नंबर या फिगर हो तो अगर उसको आप अपना एंकर टेक्स्ट बनायेंगे तो और ज्यादा अच्छा होगा| कहने का तात्पर्य ये है कि आप अपनी Backlink को Natural रखिये|

दोस्तों उम्मीद है आपको इस आर्टिकल में Guest Blogging Services और गेस्ट पोस्ट के बारे में कुछ अलग और नया सिखने को मिला होगा| अपनी वेबसाइट की Niche से मिलती-जुलती Websites के साथ अपने अच्छे सम्बन्ध बनाने का प्रयास करे क्यूंकि ऑनलाइन मार्केटिंग और बिज़नस में सम्बन्ध बहुत ज्यादा महत्त्व रखते है | Guest पोस्टिंग के दौरान उस वेबसाइट के बारे में पहले अच्छे से जान से और अगर संभव हो तो उसके ओनर के साथ भी कांटेक्ट करके उनसे इसके बारे में पूरी जानकारी ले|

➥ अगर आपको ये इनफार्मेशन उपयोगी और लाभदायक लगे तो इसे शेयर करना ना भूले और अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो निचे Comment कीजिये।

नमस्कार दोस्तों, मैं Mahakal-Blog का फाउंडर हु | ब्लॉग्गिंग करना मेरा प्रोफेशन है और मेरी रूचि, नई-नई चीजो के बारे में जानकारी अर्जित करना और उसे ब्लॉग्गिंग के मध्यम से लोगो के साथ शेयर करने में है | इस ब्लॉग को बनाने के पीछे हमारा मकसद यह है कि हम आपको ब्लॉग्गिंग और डिजिटल मार्केटिंग से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी एकदम सरल भाषा हिंदी में उपलब्ध करवा सके !

Share For Support:

Leave a Comment